टेक्नोलोजी

फेसबुक भारत में बडे निवेश को तैयार, आज होगी मुकेश अंबानी और मार्क जुकरबर्ग के बीच वार्ता

नई दिल्ली: सोशल मीडिया जायंट फेसबुक मंगलवार 15 दिसंबर को फ्यूल फॉर इंडिया 2020  इंवेंट की मेजबानी कर रही है. इस इवेंट में फेसबुक के प्रमुख मार्क जुकरबर्ग और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन व मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी भारत में अवसरों को लेकर आज बात करेंगे. इवेंट की शुरुआत सुबह 9:30 बजे होगी. मार्क जुकरबर्ग और मुकेश अंबानी की चर्चा का विषय भारत की आर्थिक वृद्धि को तेज करने में डिजिटलीकरण और छोटे कारोबारों की भूमिका होगा.

फेसबुक के चीफ रेवेन्यू ऑफिसर डेविड फिशर ने इसकी जानकारी दी है. फिशर ने कहा कि भारत अकेला ऐसा देश है, जहां फेसबुक ने मीशो और अनअकैडमी जैसी कंपनियों में माइनॉरिटी शेयर (अल्पांश हिस्सेदारी) ली है, ताकि डिजिटल इनोवेशन को बढ़ावा दिया जा सके. फिशर ने कहा कि फेसबुक भारत में लंबे समय के लिए निवेश करने के लिए प्रतिबद्ध है. इसके लिए वह लगातार कारोबारों के लिए नए-नए समाधान पेश करती रहेगी, ताकि उन्हें अपनी ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराने और वृद्धि करने में मदद मिल सके.

फेसबुक के लिए भारत क्यों है खास?

फेसबुक के चीफ रेवेन्यू ऑफिसर डेविड फिशर ने कहा, ‘कंपनी ने भारत में निवेश किया और कुछ ऐसे अनोखे सौदे किए जो उसने दुनियाभर में कहीं नहीं किए. भारत के बारे में जो एक बात सबसे अलग उभर कर आती है वह है इनोवेशन की रफ्तार, इससे वहां हो रहे बदलाव और उनके असर को भी फेसबुक महसूस करता है. यही कारण है कि हमने यहां विशेष निवेश किया है.’

फिशर कहते हैं, ‘हमने भारत के लिए एक स्पेशल स्ट्रक्चर तैयार किया है. भारत में हम ऐसा कुछ कर रहे हैं जो हमने दुनियाभर में नहीं किया. हम यहां अनोखा निवेश और सौदे कर रहे हैं.’

अप्रैल में फेसबुक ने जियो पर किया था 5.7 अरब डॉलर का निवेश

बता दें कि अप्रैल में फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के जियो प्लेटफॉर्म्स में 5.7 अरब डॉलर यानी 43,574 करोड़ रुपये का निवेश की घोषणा की थी. इसके लिए फेसबुक को जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.9 फीसदी हिस्सेदारी मिली. यह फेसबुक के लिए भी 2014 के बाद से सबसे बड़ी डील है.

सिल्वर लेक पार्टनर ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.15 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए 5,655.75 करोड़ के निवेश का ऐलान किया था. बाद में सिल्वर लेक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में अतिरिक्त 4,546.80 करोड़ रुपये के निवेश का भी ऐलान किया. इससे कंपनी में उसकी हिस्सेदारी बढ़कर 2.08 फीसदी हो जाएगी.

Related Articles

error: Content is protected !!
Close