राजस्थान

जयपुर ग्रेटर नगर निगम को मिलेगा नया महापौर !

महापौर सौम्या गुर्जर बर्खास्त तथा 6 साल के लिए अयोग्य घोषित !

जयपुर ग्रेटर नगर निगम को नया महापौर शीघ्र ही मिलने वाला है दरअसल आज स्वायत्त शासन विभाग ने ग्रेटर निगम महापौर सौम्या गुर्जर को बर्खास्त कर दिया है, सौम्या को निकाय चुनाव के लिए 6 साल के लिए अयोग्य घोषित किया गया है, सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की कॉपी मिलने के बाद से इस बात की संभावना जताई जा रही थी!

23 सितम्बर को सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेशों में सरकार को 2 दिन तक किसी भी तरह की कार्यवाही नहीं करने के लिए कहा था, 25 सितम्बर को वह दो दिन का समय पूरा हो गया था, ऐसे में 26 तारीख से सरकार कार्यवाही करने के लिए स्वतंत्र हो गई थी!

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी से चुनी गई जयपुर ग्रेटर मेयर सौम्या गुर्जर और सरकार के अफसरों के बीच विवाद चल रहा था। कुछ महीनों पहले अपने दल के पार्षदों के साथ मिलकर उन्होनें निगम आयुक्त के साथ दुर्रव्यवहार किया था और यहां तक की गाली गलौच तक कर डाली थी। मामला सरकार तक पहुंचा तो सरकार ने मेयर को दोषी करार दे दिया। मेयर ने कानूनी लड़ाई का रास्ता अपनाया। सरकार भी उसी रास्ते चली और सबूत देती चली गई।

सौम्या गुर्जर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गई थी सरकार
आखिर मामला सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा। वहां से भी मेयर को राहत नहीं मिली। सुप्रीम कोर्ट ने 23 सितंबर को इसकी जांच के आदेश सरकार को दिए थे और मेयर के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा था। इन निर्देशों के बाद सोमवार को कार्यालय खुलने पर चर्चा हुई, फाइल सरकार तक पहुंची और आज सवेरे मेयर के खिलाफ स्वायत्त शासन विभाग ने आदेश जारी कर उन्हें पद से हटा दिया। उन्हें महापौर पद से हटाने के साथ ही निगम की सदस्यता से भी हटा दिया गया है। साथ ही छह साल तक निकाय संबधी चुनाव लड़ने में भी उनको अयोग्य घोषित कर दिया गया है!

Related Articles

error: Content is protected !!
Close