राजस्थान

200 फिट गहरे खुले बोरवेल में गिरी 2 वर्षीय बालिका को किया सुरक्षित रेस्क्यू

एनडीआरएफ-एसडीआरएफ और सिविल डिफेंस टीम की संयुक्त कार्रवाई

जयपुर 15 सितंबर। गुरुवार को दौसा जिले के बांदीकुई थाना अंतर्गत जस्सा पाड़ा गांव के 200 फीट गहरे खुले बोरवेल में गिरी 2 वर्षीय बालिका को एनडीआरएफ, एसडीआरएफ एवं सिविल डिफेंस की टीम ने संयुक्त ऑपरेशन कर सुरक्षित बाहर निकाल लिया है, जिसे फिलहाल चिकित्सकीय देखरेख के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया।
एसडीआरएफ के कमांडेंट राजकुमार गुप्ता ने बताया कि गुरुवार को बांदीकुई क्षेत्र के जस्सा पाड़ा गांव में 200 फिट खुले बोरवेल को मिट्टी से भरा जा रहा था। जिसे लगभग 120 तक भरा जा चुका था। इसी दौरान देवनारायण गुर्जर की 2 वर्षीय बेटी अनीता खेलते समय खुले बोरवेल में गिर गई। जिला कलेक्टर दौसा से मिली सूचना पर जयपुर में तैनात ए कंपनी की 3 रेस्क्यू टीम व दौसा और नारेली अजमेर में तैनात रेस्क्यू टीम को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया।
एडीजी एसडीआरएफ सुमित विश्वास द्वारा सहायक कमांडेंट सुरेश कुमार मेहरानियां को ऑपरेशन के सुपर विजन का दायित्व सौंपा गया। वे रेस्क्यू टीम तथा आपदा राहत उपकरणों के साथ दोपहर करीब 1:15 बजे घटनास्थल पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। सिविल डिफेंस की टीम द्वारा रेस्क्यू के प्रयास किए जा रहे थे।
रेस्क्यू टीम के जवानों ने सबसे पहले स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर तीन एलएनटी तथा तीन जेसीबी मशीनों की सहायता से बोरवेल से 10 फीट की दूरी पर बोरवेल के समानांतर एक गड्ढे की खुदाई चालू की। इस दौरान समय-समय पर परिजनों की उपस्थिति में पानी भोजन तथा ऑक्सीजन की सप्लाई लगातार बालिका तक पहुंचाई गई। विक्टिम लोकेटिंग कैम्रर की सहायता से बच्ची पर पूर्ण निगरानी एवं संपर्क बनाए रखा।
रेस्क्यू के दौरान करीब 6:15 बजे एनडीआरफ कि एक रेस्क्यू टीम सहायक कमांडेंट योगेश के नेतृत्व में घटनास्थल पर पहुंची। उसके बाद तीनों टीमों ने स्वयं निर्मित देशी जुगाड़ की सहायता से संयुक्त ऑपरेशन किया। करीब 6:45 बजे रेस्क्यू टीम ने बोरवेल में गिरी 2 वर्षीय बच्ची अनीता को सकुशल जीवित बाहर निकालकर अस्पताल के लिए रवाना किया।
मौके पर जिला कलेक्टर दौसा कमर उल जम्मान चौधरी, एसपी दौसा संजीव नैण, तहसीलदार बांदीकुई रश्मि शर्मा, थानाधिकारी नरेश कुमार मय जाब्ता ओर स्थानीय ग्रामीण मौजूद थे। जिन्होंने रेस्क्यू टीम के कार्य की सराहना कर धन्यवाद दिया।
*रेस्क्यू में शामिल सदस्य*
रेस्क्यू टीम में प्लाटून कमांडर रमेश चंद्र, रवि और आशीष, हेड कांस्टेबल नरपाल, जोगेंद्र सिंह, सुनील कुमार व राधेश्याम एवं जवान बनवारी लाल, महेश, लीलाराम, दिनेश, इमरान, सुरेंद्र, धर्मेंद्र, प्रधान, ओमप्रकाश हरिप्रसाद, सुरेश, सोहनलाल, कमल कुमार, सुभाष, अशोक कुमार, जगरूप, सुरेंद्र, हरीश कुमार, गौरु राम बृजमोहन व ओमप्रकाश शामिल थे।
————

Related Articles

error: Content is protected !!
Close