आम आदमी पार्टी

कन्हैयालाल हत्या मामले में दोषियों को एक महीने में फांसी दी जावे-आम आदमी पार्टी

मिश्रा ने आमजन से की शांति बरतने की अपील

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर साधा निशाना, गहलोत जयपुर से ज्यादा समय दे रहे दिल्ली में

आम आदमी पार्टी ने उदयपुर में कन्हैयालाल की नृशंस हत्या मामले में प्रदेश की गहलोत सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। पार्टी की ओर से कहा गया है कि जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिनके पास गृह मंत्रालय का भी जिम्मा है वे अधिकतर समय दिल्ली में गुजारेंगे तो राज्य के हालात बद से बदतर होंगे।

पार्टी के राजस्थान प्रभारी विनय मिश्रा ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि जब प्रदेश का मुख्यमंत्री अपने राज्य को छोड़ कर महीने के 30 दिन में 29 दिन दिल्ली में आलाकमान को खुश करने में बिताये, तो उस राज्य के हालत इससे भी बद्तर होंगे। उन्होंने कहा कि इस मामले में आतंकी कनेक्शन की बात भी सामने आ रही है। इस मामले की जांच जल्द से जल्द कर दोषियों और उनके सहयोगियों को कड़ी सजा देनी चाहिए।

विनय मिश्रा ने कहा कि अभी प्रदेश में धारा 144 लगी है। आमजन को शान्ति बनाकर तनाव को दूर करने के प्रयास करने चाहिए। जल्द ही शांति बहाल होने के बाद वे उदयपुर में कन्हैयालाल के पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे और हरसम्भव सहयोग उपलब्ध करवाएंगें। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार के कुकर्म का आलम यह है की जब 10 दिन पहले कन्हैयालाल ने अपने जीवन की सुरक्षा के शिकायत दर्ज करवायी तो उल्टा गहलोत सरकार की पुलिस ने कन्हैयालाल पर ही मुक़दमा दर्ज कर उन्हें गिरफ़्तार कर लिया था। आखिर तुष्टीकरण के जरिए मुख्यमंत्री किसे खुश करना चाह रहे थे?

मिश्रा ने कहा कि राजस्थान को ऐसा “जादूगर” नहीं चाहिए, जो शांत प्रदेश संस्कृति से रंजित वीर भूमि राजस्थान को रेप,हत्या, भ्रष्टाचार, बलात्कार ,आतंकी घटना में प्रदेश को नम्बर-1 बना दे। इतने कुकर्म को सह देने वाला महाभ्रष्ट होता है, कोई जादूगर नही। जादूगर वो होता है जो राजस्थान में शांति व्याप्त करे। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग कि की 1 महीने के अंदर कन्हैयालाल के हत्यारे को फाँसी दी जाये। इसके लिये जो भी करना पड़े वो राजस्थान की सरकार करे। ऐसे हैवानो को राजस्थान की जनता के टैक्स के पैसे से जेल में बैठा कर मुफ़्त खाना,बिजली-पानी,पंखे और डॉक्टर की सुविधा न दे। इनके गर्दन पर जल्द फाँसी की रस्सी लगाई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close