राजस्थान

गांव के संसाधनों का अधिकाधिक उपयोग से ही होगा गांवो का विकास – डॉ कुमावत

ग्राविस उपकेंद्र बाप मे ग्राम विकास समितियों के सदस्यों का नेतृत्व प्रशिक्षण आयोजित!

बाप/कविकान्त खत्री/चमकता राजस्थान
ग्रामीण विकास विज्ञान समिती तथा डीएस ग्रुप द्वारा संचालित डीएमएचआर परियोजना के तहत ग्राविस केन्द्र बाप में मंगलवार को ग्राम विकास समितीयों का नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित हुआ।प्रशिक्षण में कृषि विज्ञान केंद्र फलोदी से डॉ सेवाराम कुमावत ने बताया की गांव की विकास योजना व नियोजन गांव के पास हो और इसके लिये ग्राम विकास समितियो को आगे बढ़ना चाहिए। गांव में उपस्थित संसाधनों का योग्य उपयोग करके गांव के लोगो को स्वावलम्बी बनाने हेतु प्रोत्साहित करना चाहिए। कार्यक्रम समन्वयक शायबाज पठान ने बताया की परियोजना के तहत चलने वाले निर्माण कार्यो को गांव के जरूरतमंद लोगो तक पहुचाने में सहयोग करे और इसमें निरंतरता बनाये रखे। केंद्र समन्वयक हुकमाराम पंवार ने बताया की प्रबंध जगत में नेतृत्व का अपना एक विशिष्ट स्थान है। कोई समिति की सफलता या असफलता हेतु काफी हद तक नेतृत्व जिम्मेदार होता है। सदस्यों द्वारा किये गए प्रश्नो का निवारण करके प्रशिक्षण का समापन किया गया। प्रशिक्षण में मनीष, शिवकुमार, मंजूलता, रूखमणी, जीवनलाल, अमनाराम, नकतु भील, मंथरा सहित सदस्य उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close