राजस्थान

मातृभूमि की सेवा के लिए जवानों की कर्तव्य निष्ठा व समर्पण भाव अत्यंत प्रेरणादायक – सोनी

सीमा सुरक्षा बल के स्थापना दिवस पर बाप में शहीद गोरधनराम मेघवाल की मूर्ति स्थल पर कार्यक्रम आयोजित, वीरांगना संतोषदेवी को ऑपरेशनल कैज्युल्टी प्रमाण पत्र देकर किया सम्मानित, बीएसएफ व प्रशाशनिक अधिकारी सहित जनप्रतिनिधि रहे उपस्थित
बाप/कविकान्त खत्री/चमकता राजस्थान
सीमा सुरक्षा बल के स्थापना दिवस पर बुधवार को यहां राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के खेल मैदान के पास स्थित शहीद गोरधनराम मेघवाल की मूर्ति स्थल पर कार्यक्रम आयोजित हुआ।

कार्यक्रम में महानिदेशालय सीमा सुरक्षा बल नई दिल्ली द्वारा जारी ऑपरेशनल कैज्युल्टी प्रमाण पत्र शहीद की पत्नी वीरांगना संतोष देवी को प्रदान कर उनका सम्मान किया गया। इस मौके बोलते हुए बाप तहसीलदार प्रतिज्ञा सोनी ने कहा कि मातृभूमि की सेवा के लिए जवानों की कर्तव्यनिष्ठा व समर्पण भाव अत्यंत प्रेरणादायक है।

पुष्प की अभिलाषा का जिक्र करते हुए सोनी ने कहा कि एक पुष्प की भी यही इच्छा होती है कि वह उस मार्ग पर बिखरे, जहां से देश सेवा के लिए लोग गुजरते हैं। सोनी ने कहा कि जवानों की तरह भले ही हम लोग सीमा पर जाकर देश सेवा का कार्य नहीं कर सकते, लेकिन अपने अपने क्षेत्र व नोकरी में ईमानदारी से बेहतर व सेवाभावी कार्य कर हम भी देश सेवा कर सकते हैं। एक विद्यार्थी अपने विद्यालय की छुट्टी होने के बाद अपने कक्ष में जलती हुई लाइट या चलते हुए पंखे को बंद करके देश सेवा कर सकता है। आम नागरिक राह चलते हुए यदि व्यर्थ बहते पानी को रोक दे तो यह भी देश सेवा ही है। 87 वी वाहिनी सीमा सुरक्षा बल पोकरण के कमांडेंट रनवीरसिंह ने कहा कि बीएसएफ देश की सीमाओं के साथ आंतरिक सुरक्षा में सक्रिय भूमिका निभा रही है। हमारी जिम्मेवारी सीमाओं की रक्षा करना है तथा हमारी जिम्मेवारियो की कोई सीमा भी नहीं है। देश की सीमा पर आतंकियों से लोहा लेते हमारा जवान गोरधन राम 3 नवम्बर 2000 को शहीद हुए, उन्हें हम सेल्यूट करते है। शहीद के परिवार को मान सम्मान समय समय पर मिलता रहे ये दायित्व देश के प्रत्येक नागरिक का है। सीमाजन कल्याण समिति फलोदी जिला उपाध्यक्ष अखेराज खत्री ने कहा कि देश के लिए अपने प्राणों को न्योछावर करने वालो का हमारे ऊपर बहुत बड़ा ऋण है। हमे उनके लिए हर समय कुछ करना चाहिए। खत्री ने बताया कि सीमाजन कल्याण समिति के कार्यकर्ता हर वर्ष बॉर्डर पर जाकर जवानों के साथ रक्षाबंधन व दीपावली का पर्व मनाते हैं। यादों में वीर शहीदों को संजोए रखना भी देश सेवा है। कार्यक्रम में बीएसएफ के कमांडेड रणवीर सिंह, सहायक कमांडेंट मिलीचंद सोमकुले, इंस्पेक्टर राजकुमार, रेखचंद, तहसीलदार प्रतिज्ञा सोनी, पूर्व उप प्रधान जगदीश पालीवाल, जिला परिषद सदस्य रेशमाराम गोदारा, सीमाजन कल्याण समिति फलोदी जिला उपाध्यक्ष अखेराज खत्री, कल्याणसिंह की सिडा सरपंच केसुराम मेघवाल, वीरांगना संतोष देवी, पूर्व सैनिक नारायण राम मेहरा, ग्राम विकास अधिकारी राकेश मीणा, वरिष्ठ सहायक दिनेश पालीवाल, एसएसडी बाप शाखा अध्यक्ष गणपत भाट, सुनील बरबड़, पत्रकार कविकान्त खत्री, रमन दर्जी, शिक्षक तोलाराम पालीवाल, भोजराज मेघवाल सहित कई लोग उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close