राजस्थान

मेरे सपनों की उड़ान की शुरुआत है वीमन लीडरशीप अकादमी – हिना

बाप में पहली बार सहज संस्थान - वीमनसर्व के द्वारा सरपंच के सानिध्य में हुआ अकादमी का शुभारंभ!

बाप/कविकान्त खत्री/चमकता राजस्थान
बाप उपखंड में सहज संस्थान – वीमनसर्व द्वारा 15 से 25 वर्ष की बालिकाओं और महिलाओ के लिए आधुनिक सुविधा सहित वीमन लीडरशीप अकादमी शुरू की गई। जिसका शुभारंभ समारोहपूर्वक हुआ। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बाप सरपंच लीला देवी, अतिथि के रूप में पूर्व उप प्रधान जगदीश पालीवाल, सहज संस्थान अध्यक्ष बाबूराम विश्नोई ने भाग लिया। वीमन लीडरशीप अकादमी की प्रबंधक सरिता सेन ने अकादमी का परिचय देते हुए बताया कि हमारा उद्देश्य ग्रामीण परिवेश में बालिकाओ और महिलाओ को उनके जीवन कौशल और नेतृत्व क्षमता को मजबूत करना है, ताकि वो अपनी जिंदगी के फैसले खुद ले सके। इस अकादमी में अंग्रेजी कौशल, कंप्यूटर कौशल और सिलाई व डिजाइन कौशल पर कार्य किया जाएगा।
सहज संस्थान अध्यक्ष बाबूराम विश्नोई ने कहा कि संस्थान पश्चिम राजस्थान में महिलाओं के लिए कार्य कर रहा है और शिक्षा, स्वास्थ्य और सर्वांगीण विकास के लिए हमेशा तत्पर है। वीमनसर्व के मुख्य प्रबंधक सुरेश कुमावत ने वीमनसर्व के अब तक के सफर पर प्रकाश डाला और कहा कि हम हर सम्भव महिलाओ और बालिकाओ के पानी, स्वास्थ्य, स्वच्छता, शिक्षा एवं सामाजिक व आर्थिक विकास के मुद्दों पर ग्रामीण बाप उपखंड क्षेत्र में कार्य कर रहे है। उसके बाद अकादमी की सुमित्रा ने “मुझे आवाज उठाने दो” कविता पेश की। बाप सरपंच लीला देवी ने बालिकाओ का हौसला अफजाई करते हुए कहा कि मेरा भी सपना था कि बाप में इस तरह की अकादमी हो जो जरूरतमन्द महिला और बालिकाओ को सीखने-सीखाने का मौका मिले। मुझे खुशी है कि संस्था ने यह पहल की। मैं हमेशा इसमे सहयोग के लिए तैयार रहूंगी। रईशा, पुष्पा, हसमत बानो, सुल्ताना, हिना व जेबुन्निसा ने “सारे अक्षर पढ़ती जा…” गीत सुनाया। नया गांव की सीता ने “अकादमी की आवाज’ शीर्षक पर अपने विचार वक्त करते हुए अपने शिक्षा सफर के अनुभव को सुनाया। बाप की राधा ने नारी शक्ति पर अपनी कविता पेश कर हमेशा संघर्ष कर आगे बढ़ने का संदेश दिया। अतिथि पूर्व उप प्रधान जगदीश पालीवाल ने बताया कि आज के युग मे बालिकाओ व महिलाएं हर क्षेत्र में आगे है। हमारे उपखण्ड मुख्यालय स्तर इस तरह के अकादमी का शुरू होने गौरव की बात है। उन्होंने संस्थान का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन भोमराज सुथार ने किया। अन्त में परियोजना प्रबंधक सुभश्री प्रधान ने सबका आभार प्रकट करते हुए कहा कि हम अगर जो बदलाव देखना चाहते है उसकी शुरुआत खुद से करनी होगी। यही मूल मकसद हमारी इस अकादमी का रहेगा, यहां सब मिलकर सीखे और आगे बढ़े। वीमन लीडरशीप अकादमी का बाप सरपंच ने फीता काटकर शुभारंभ कर सभी अथितियों के साथ अकादमी का अवलोकन किया। कार्यक्रम में सहज संस्थान के कृषि विशेषज्ञ रामदयाल वर्मा, लेखाकार मोहम्मद यासीन, फील्ड समन्वयक दुर्गा जयपाल, भंवर शर्मा, भाई खान और बालिकाओ के परिवारजनों ने भाग लिया।

Tags

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close