स्वास्थ्य

आयुर्वेदिक न्यूरो हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर अजमेर के सहयोग से दी स्वर्णप्राश की खुराक

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए दिव्यांग बच्चों को दी खुराक!

दिव्यांग जन सेवा मे अग्रणीय ज्योतिर्गमय सेवा संस्थान पुष्कर से जुडे दिव्यांग बच्चों को केंद्र से नियमित जोड़ने से पूर्व 1 अक्टूबर पुष्य नक्षत्र मे आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी एवं प्रभारी अन्जु कटारे द्वारा मंत्रोच्चारण के साथ पुर्व दिशा मे मुख कर स्वर्णप्राश की खुराक दी गई । हरिभाऊ उपाध्याय नगर , अजमेर स्थित आयुर्वेद न्यूरो हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के निदेशक डॉ नवनीत कटारे के सहयोग से यह स्वर्ण प्राशन बच्चों को कराया गया
जहां कोविड-19 की तीसरी लहर जो बच्चों को प्रभावित कर सकती है
दिव्यांग बच्चों को संक्रमण से बचाने के लिए राज्य सरकार की गाइडलाइन की पालना के साथ बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिऐ स्वर्णप्राश की खुराक के साथ दिव्यांग बच्चों का वजन व लम्बाई भी ली गई ।
डॉ अंजू कटारे ने बताया कि पुष्य नक्षत्र में स्वर्ण प्राश की खुराक पिलाने से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता के साथ कुपोषित बच्चो का शारिरिक मानसिक विकास मे भी निरन्तरता आती है ।

कार्यक्रम में संस्था संरक्षक स्वामी श्री गंगानंद जी, अध्यक्ष श्री जुगल किशोर ,संस्थान सचिव वेदप्रभा निमरानिया उपस्थित रहे ।
सुनीता जी , कलावती जी , प्रीतम ओझा, कालूराम, पुनित गौड,मनिष मेघवाल निर्मला वैष्णव ने सहयोग किया ।
राजकीय आयुर्वेदिक औषधालय पुष्कर में भी स्वर्ण प्राशन कराया गया 3 माह से 16 वर्ष तक के बच्चों को चटाया गया यह स्वर्ण प्राशन 14 जून से लगातार हर माह पुष्य नक्षत्र में नि:शुल्क कराया जा रहा है
इसी कड़ी में आज अजमेर स्थित आयुर्वेदिक न्यूरो हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर अजमेर के द्वारा कराया गया
आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी प्रभारी डॉ अंजू कटारे चौहान ने बताया सुबह आयुर्वेद ओषधालय पुष्कर में स्वर्ण प्राशन बच्चों को कराया गया जिसमें 260 बच्चे लाभान्वित हुए इसमें पिछले 4 माह से लगातार स्वर्ण प्राशन बच्चों को कराया जा रहा था उनमें जो बच्चे लगातार आ रहे हैं उनमें से 88% बच्चों की पाचन क्षमता में बढ़ोतरी हुई
वुमेंस इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री योगा काउंसिल राजस्थान की अध्यक्ष योगबाला वैष्णव भी उपस्थित रही,, योगा काउंसिल कोर कमेटी ने यह भी तय किया कि 5अक्टूबर को औषधालय में गर्भवती महिलाओं के स्वास्थय परीक्षण के साथ ही गर्भ के उचित पोषण हेतु दवाई वितरित की जाएगी

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close