राजस्थान

हिन्दू होने का दावा करने वाले मीणा समाज के हुए सांसद किरोड़ी!

आमागढ़ फोर्ट पर भगवा झंडे की बजाय फहराया मीन ध्वज!

जयपुर के आमागढ़ में अपनी पूर्व घोषणा के अनुसार राज्यसभा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने आज आमागढ़ फोर्ट पर भगवा झंडे की बजाय मीन ध्वज फहरा दीया!
आज तड़के एक दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं के साथ आमगढ़ पैलेस पर पहुँचे थे किरोड़ी लाल ।
बाद में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया, पुलिस डॉ.मीणा व उनके साथ आमागढ़ दुर्ग पर पहुंचे कार्यकर्ताओं को पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर विद्याधरनगर थाने लेकर आई ।
L900
गिरफ्तारी के बाद पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कड़ी निंदा करते हुए कहा कि
“आमागढ़ क़िले के मामले में धर्म के नाम पर राजनीति कर रही कोंग्रेस को करारा जवाब देने वाले डॉ.किरोड़ी लाल मीणा जी की गिरफ़्तारी निंदनीय है। डॉ.मीणा को तुरंत रिहा किया जाय।”

आमागढ़ किले पर सनातन परंपरा के भगवा झंडे को उतारकर मीन ध्वज फहराए जाने पर हुए विवाद के बाद किरोड़ी ने बयान देते हुए मीणा समाज को भी पूर्ण रूप से हिंदू बताया था और फिर से आमागढ़ पर भगवा झंडा फहराने की बात कई थी।

लेकिन, शनिवार शाम से ही गलता से लेकर आमागढ़ किले तक पुलिस के फ्लैग मार्च और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ मीणा समाज की ओर से बनाए गए दबाव के बाद बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा के भगवा झंडा फहराने के इरादे हवा हो गए।
भगवा झंडा फहराने की बात करते-करते बीजेपी सांसद किरोड़ी ने रातों रात मीन भगवान का झण्डा पकड़ लिया ।
– सड़कों पर वाहन रैली निकालने के साथ सरकार,पुलिस व मीणा समाज पर दबाव बनाने वाले ओर मीणाओ को हिन्दू हिन्दू कहने वाले सांसद किरोड़ी आखिरकार समाज के ही हो गये गए और आमागढ़ पर भगवे झंडे के स्थान पर मीन ध्वज फहराकर खुद को हिन्दू नहीं, मीणा घोषित कर दिया!
अपने वादे के मुताबिक मीणा ने किले की प्राचीर पर झंडा तो फहराया,लेकिन भगवा नहीं मीणा समाज का मीन ध्वज।
इस दौरान किले पर झंडा फहराने की पुलिस को सूचना मिली तो हड़कंप मच गया।
थाना इंचार्ज किले पर पहुंचे और सांसद किरोड़ीलाल मीणा को गिरफ्तार कर लिया।
इस दौरान किरोड़ी लाल मीणा के साथ मीणा समाज के कुछ युवा कार्यकर्ता भी मौजूद रहे!
इसके बाद, सांसद मीणा किले में कार्यकर्ताओ के साथ लगभग आधा घण्टे तक रहे ओर जयकारे लगाते रहे।

मामला जयपुर के आमागढ़ किले में कुछ दिनों पूर्व शिव मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद भगवान झंडा फहराने पर कांग्रेस विधायक रामकिशोर मीणा की ओर से की गई आपत्ति का था।
इसके तहत विधायक रामकिशोर ने मीणा समाज ने युवाओं के साथ आमागढ़ किले पर जाकर सनातन परंपरा के भगवा झंडे को उतार कर फाड़ दिया था और मीणा समाज की भगवान मीन की ध्वज को किले की प्राचीर पर फहरा दिया था।
कांग्रेस विधायक रामकिशोर ने कहा कि मीणा हिंदू नहीं है, हिंदुओं से अलग है।

इसी दौरान एक बार फिर बीजेपी के राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने यह कहकर कांग्रेस विधायक रामकिशोर मीणा को दबाया की मीणा समाज भी सनातन परंपरा का हिंदू ही है ना कि हिंदुओं से अलग।
हिंदुओं की परंपरा में मंदिर पर भगवा झंडा ही फहराया जाता है विधायक ने भगवा झंडे को उतारकर फाड़ना बहुत ही गलत है।
उन्होंने कहा था कि, अब हम सनातन परंपरा के तहत आमागढ़ किले पर फिर से भगवा झंडा फहराएंगे और हिंदुत्व की रक्षा करेंगे।

Related Articles

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close